दुलहिन सा वृक्ष।💖🎺

एक पेड़ क्रेन से आया ।

जड़ में बहुत सी मिट्टी लाया ।

क्रेन की धुन सुन माली आया।

पेड़ देख वो था मुस्काया।

अपने बाग़ में जगह बना कर,

उसे सहेजा और लगाया ।

उसकी महक सभी को भाए।

जैसे इक सुंदर सी दुलहिन घर में आए

और घर के मंदिर में ,

पहला दिया जलाए। 💞📯….✍️

Published by (Mrs.)Tara Pant

बहुत भाग्यशाली थी जिस स्नेहिल परिवार में मेरा जन्म हुआ। education _B.Sc. M.A.M.ed.

20 thoughts on “दुलहिन सा वृक्ष।💖🎺

  1. पारिजात के पौधे को श्री कृष्ण बैकुंठ से लाए थे देवताओं से लड़ कर ऐसा नाना बताते थे ….क्रेन से भी पारिजात आता पढ़ बहुत अच्छी अनुभूति हुई

    सुंदर कविता😄😄✌

    इनके फूल रोशनी में गिर जाते ….फ़ोटो खींचना दुर्लभ रहता ..सुंदर है मित्र❤🌼😃

    Liked by 1 person

    1. Shift किया था पेड़ । सवेरे ये पुष्प भगवान को चढ़ाने के लिए बेटी रात को ही चादर बिछा देती थी।

      Like

  2. सही कहा है जहाँ न पहुंचे रवि वहाँ पहुँचे कवि।
    पेड़ को दुल्हन से जोड़ कर कमाल कर दिया है ।

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: